शाश्वत यौगिक खेती प्रदर्शनी – याग्रोविजन नागपूर

Brahma Kumaris

ब्रह्माकुमारीज़ द्वारा राजयोग के माध्यम से मिट्टी और बीज में जीवन समझने का सफल प्रयास।

नागपुर के रेशिमबाग मैदान पर अग्रोविजन राष्ट्रीय कृषि प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। जिसमे ब्रह्माकुमारीज़ ने भी सहभाग लिया। ब्रह्माकुमारीज़ द्वारा  ” शाश्वत योगिक खेती ”  विषय पर प्रदर्शनी लगाई गई जिसका उत्घाटन भ्राता डॉ.खुशालचंद्र बोपचे माजी सांसद अधक्ष (जल संसाधन समिति), भ्राता अनिल मोरे ( रीजनल मनेजर महाराष्ट्र एग्रीकल्चर इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट कारपोरेशन ) इनके हस्ते संपन्न हुआ। इस उत्घाटन में हितवाद के पत्रकार राजेन्द्रजी दिवे, बी.के. प्रेमलता बहन, बी.के. मनीषा बहन, बी. के. वर्षा बहन, बी.के. महेंद्रभाई ठाकुर ” Ruchi Agro farm Directer & Rural Development wing Executive member डॉ.दीप्ती वानखेड़े “एग्रीकल्चर साइंटिस्ट ” तथा अन्य मुख्य रूप से उपस्थित थे।

 

Mera Bharat Swarnim Bharat bus Abhiyaan WellCome

Brahma Kumaris

मेरा भारत स्वर्णिम भारत अभियान बस नागपुर में, ब्रह्माकुमारी रक्षा बहन ने तिलक लगाकर किया स्वागत।


Basic Life Support and Emergency Nursing

Brahma Kumaris

विश्व शांति सरोवर जामठा नागपुर मैं “बेसिक लाइफ सपोर्ट एंड इमरजेंसी नर्सिंग” के नाम से कार्यक्रम आयोजित किया गया. मुख्य ट्रेनर के रूप में चिप सिस्टर श्रीमती रोडे मैडम सुपर स्पेशलिटी से आए थे. तथा मुख्य अतिथि के रुप में भ्राता श्री गौरखेडेजी सेक्रेट्री त्रिपाठी नर्सिंग स्कूल से उपस्थित थे। रोडे मैडम ने एक मानव माध्यम से भी एक पेशेंट को इमरजेंसी ट्रीटमेंट कैसे दे यह प्रात्यक्षिक बताया. उन्होंने कहा कि इमरजेंसी नर्सिंग कोई भी दे सकता है, किसी भी ट्रेनिंग की या रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं ऑक्यूपेशन की भी जरूरत नहीं रहती जागरूक नागरिकता के साथ साथ उस समय क्या करना है जरूरी है अभी घर में या रास्ते से जाते समय कोई भी व्यक्ति गिरते हुए दिखता है तब हम जीवन बचाने के लिए नर्सिंग दे सकते हैं. तुरंत किया गया प्रयास बहुत ही महत्वपूर्ण बिंदु बनेगा. इसके लिए उन्होंने प्रात्यक्षिक करके दिखाया उन्होंने कहा कि 24 परसेंट लोगों को अटैक आता है उस समय यह प्रक्रिया पता रहती है तो किसी की भी जान बचाई जा सकती है l ब्रह्मा कुमारी वर्षा दीदी ने स्पेशल सेशन लेते हुए नरसिंह फील्ड से आए हुए सभी को राजयोग का महत्व जीवन में कैसे अपनाएं और इसका लाभ पेशेंट को कैसे पहुंचा सकते हैं यह संक्षिप्त मैं बताया। उन्होंने मेडिटेशन के माध्यम से सुख शांति का अनुभव कराया। इस कार्यक्रम में नागपुर संचालिका ब्रम्हाकुमारी रजनी दीदी तथा मनीषा दीदी उपस्थित थे। रजनी दीदी जी सभी विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट  बांटकर उनका सम्मान किया तथा मंच संचालन डॉ. निर्मल चन्नेजी ने किया।